बकरा छीलने का तरीका

बकरा छीलने का तरीका

time:2021-10-18 15:54:21 कोविड से पहले के स्‍तर पर पहुंची कंपनियों में भर्ती : सर्वे Views:4591

फुटबॉल के मैदान बकरा छीलने का तरीका betway अर्थ,लीवगैस बोनस,lovebet 7777,lovebet के एंड एच,lovebet यूके पता,365 वेबसाइट,बैकारेट ब्लैक समुराई,बैकरेट रैंकिंग,सर्वश्रेष्ठ पांच टेनिस,लवबेट नहीं खोल सकते,कैसीनो ऑनलाइन भारत,शतरंज के खेल,क्रिकेट देखने वाला ऐप्स,दा क्रिकेट,यूरोपीय कप फुटबॉल स्कोर भविष्यवाणी,फुटबॉल विश्वकोश,जुआ कौशल वीडियो,खुश किसान वियोला सुजुकी,इंडीबेट कस्टमर केयर नंबर,जैकपॉट गेम मॉड एपीके,नवीनतम मार्क सिक्स ड्रा परिणाम,लाइव रूले कैसीनो ड्यूशलैंड वर्बोटेन,लॉटरी ओहियो,एम.स्लॉट 777,ऑनलाइन कैसीनो गूगल पे,ऑनलाइन अंतरराष्ट्रीय मनोरंजन,ऑनलाइन स्लॉट ब्रिटेन तेजी से भुगतान,पोकर 9 नागा,पोकरस्टार्स और पीनिąडज़े,रूले वीडियो रणनीति,रम्मी क्या है,सीरी डी लवबेट,स्लॉट्स या रैनुरस डी एक्सपेंशन,स्पोर्ट्स यू ऐप,तीन पत्ती असली खेल,सबसे औपचारिक सट्टेबाजी मंच,आभासी वास्तविकता क्रिकेट खेल,विश्व कैसीनो,असली पैसा ऑनलाइन,कैटरीना झगड़ा एक दिन प्यार,खेलो पर जुआ chat,जोकर चार्ट,पोकर हैंड्स,बेटा उठ जा,लखानी स्पोर्ट्स शूज,स्टेटस विडियो, .कोविड से पहले के स्‍तर पर पहुंची कंपनियों में भर्ती : सर्वे

टॉप लेवल से लेकर एंट्री लेवल तक सभी स्‍तर पर नौकरियां ऑफर की जा रही हैं.
नई दिल्‍ली : अर्थव्‍यवस्‍था में रिकवरी के संकेतों के बीच कंपनियों और स्‍टार्टअप में भर्तियां तेजी से बढ़ी हैं. पिछले एक महीने में ऑफिस जॉब और मैनेजमेंट वाली नौकरियों (व्‍हाइटर कॉलर) में हायरिंग में तेज उछाल आया है. कंपनियों के डेटा और सर्वे से इसका पता चलता है.

केपजेमिनी, व्हर्लपूल, टाटा स्टील, वेदांता, फिलिप्स, नेस्ले, डेलॉइट, लाइवस्पेस, पेप्सिको और मिंट्रा उन कंपनियों में से हैं जिन्होंने ईटी को बताया कि पिछले एक महीने में हायरिंग ले‍वल या तो कोविड से पहले के स्‍तर पर पहुंच गया या उसके करीब है. टॉप लेवल से लेकर एंट्री लेवल तक सभी स्‍तर पर नौकरियां ऑफर की जा रही हैं.

स्‍टार्टअप के मामले में तो खबर और अच्‍छी है. एक्‍सफीनो के सर्वे के अनुसार, जुलाई-अक्‍टूबर की अवधि में इंटरनेट कंपनियों में भर्ती में खासा तेजी आई है. यह तेजी बड़ी कंपनियों के मामले में खासतौर से है. इस सर्वे में 80 स्‍टार्टअप को शामिल किया गया. इनमें पेटीएम, बायजूज, डेल्‍हीवेरी, उड़ान, फोनपे, अनएकैडमी, बिग बास्‍केट, जोमैटो मीडिया, वेदांतु इत्‍यादि शुमार हैं.

इसे भी पढ़ें : क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद

सच तो यह है कि स्‍टार्टअप्‍स प्रमुख नियोक्‍ता के तौर पर उभरे हैं. इनके साथ सालाना 20 फीसदी की रफ्तार से कर्मचारी जुड़े.

master6

इन सेक्‍टरों में खूब मांग
2020 के पहले छह महीनों में केपजेमिनी ने 9,500 लोगों की भर्ती की है. सेकेंड हाफ में उसकी 13,500 लोगों को रिक्रूट करने की योजना है. केपजेमिनी के वीपी और हेड ऑफ टैलेंट एक्विजिशन अनिल कुमार सिंह ने कहा, ''इस साल के शुरू में तय किए गए टारगेट को हम हासिल कर लेंगे.''

इसे भी पढ़ें : इंफोसिस के कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, नए साल से बढ़ेगा वेतन

नेस्‍ले ने कहा कि वह देशभर में अभी फैक्‍ट्री, ब्रांच और हेड ऑफिस के लिए सभी खाली पदों पर नियुक्ति कर रही है. कंपनी के डायरेक्‍टर (ह्यूमन रिसोर्स) अमित नरेन ने कहा, ''हमें भरोसा है कि हम जल्‍द ही कोविड से पहले के वॉल्‍यूम पर पहुंच जाएंगे.'' व्हर्लपूल और टाटा स्‍टील ने भी कहा कि वे कोविड से पहले के हायरिंग लेवल को टारगेट कर रहे हैं.

वेदांता, डेलॉयट और फिलिप्‍स भी उन कंपनियों में शामिल हैं जो हायरिंग के आउटलुक को लेकर काफी सकारात्‍मक हैं. हायरिंग की रफ्तार को हवा देने वाले सेक्‍टरों में डिजिटल कंटेंट और ई-लर्निंग, फिनटेक, कंज्‍यूमर सर्विसेज, लॉजिस्टिक्‍स, हेल्‍थकेयर और ऑन-डिमांड सर्विसेज मुख्‍य रूप से शामिल हैं. जिन क्षेत्रों में सबसे ज्‍यादा मांग हैं, उनमें सेल्‍स, बिजनेस डेवलपमेंट, ऑपरेशंस, आईटी, प्रोडक्‍ट मैनेजमेंट, मार्केटिंग और इंजीनियरिंग हैं.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

कंपनियों में भर्तीनौकरीकोव‍िड से पहले के स्‍तरस्‍टार्टअपसर्वेएक्‍सफीनो

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Inside Amrish Rau’s experiments at Pine Labs: card swipe as a gateway to everything that’s SaaS
Fintech

Inside Amrish Rau’s experiments at Pine Labs: card swipe as a gateway to everything that’s SaaS

10 mins read
Auto sales may plunge 30% this festive season. But don’t blindly point a finger at tepid demand.
Auto

Auto sales may plunge 30% this festive season. But don’t blindly point a finger at tepid demand.

12 mins read

कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.यूनिकॉर्न का मतलब ऐसे स्टार्टअप से है जिसका वैल्यूएशन कम से कम $एक अरब हो। चालू कैलेंडर वर्ष की तीसरी तिमाही में भारत ने 10 यूनिकॉर्न जोड़े हैं।त्योहारी सीजन के दौरान विपणन अभियान पर 100 करोड़ रुपये खर्च करेगी पेटीएम

अब माइक्रो एसयूवी सेगमेंट में भारतीय कार कंपनी टाटा मोटर्स ने भी कदम रख दिया है। Tata Motors ने अपनी नई Micro SUV Tata Punch को भारतीय बाजार में उतार दिया है। टाटा पंच की कीमत 5.49 लाख रुपये से शुरू होकर 8.49 लाख रुपये तक रखी गई है। Tata Punch में 1.2 लीटर 3 सिलिंडर नेचुरली एस्पिरेटेड पेट्रोल इंजन दिया गया है, जो 85bhp तक की पावर और 113Nm टॉर्क जेनरेट करने में सक्षम है। ट्रांसमिशन ऑप्शन, 5 स्पीड मैनुअल और AMT के साथ पेश किया गया है।न्यूयॉर्क, 18 अक्टूबर (भाषा) वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दुनियाभर में कोविड-19 महामारी से मुकाबले के लिए एक अंतरराष्ट्रीय वित्तीय ढांचा बनाने पर जोर दिया है। उन्होंने कहा कि टीके के कच्चे माल के लिए आपूर्ति श्रृंखला को खुला रखने की जरूरत है। वित्त मंत्री ने रविवार को जी30 अंतरराष्ट्रीय बैंकिंग सेमिनार में वर्चुअल तरीके से भाग लेते हुए यह बात कही। वित्त मंत्रालय ने ट्वीट कर यह जानकारी दी। सीतारमण ने जलवायु और महामारी से सुरक्षा के लिए वित्त और प्रौद्योगिकी समाधान के समान तरीके से वितरण पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि इसके लिए केंद्रित तरीके सेयूपी : 31,000 टीचरों की भर्ती की प्रक्रिया शुरू

कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.फ्रैंकलिन ने अपनी इमर्जिंग मार्केट इक्विटी टीम को मजबूत किया

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
ऑनलाइन स्लॉट म्यांमार

इसके साथ ही देश के इस सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम (वीआरएस) लागत में कटौती करने के लिए नहीं है.

अंक स्कोरिंग जिन रम्मी

मुंबई, 18 अक्टूबर (भाषा) अन्य मुद्राओं की तुलना में डॉलर में मजबूती के बीच सोमवार को शुरुआती कारोबार में रुपया दो पैसे के नुकसान के साथ 75.28 प्रति डॉलर पर खुला। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया शुरुआती कारोबार में 75.26 से 75.29 प्रति डॉलर के दायरे में रहा। बृहस्पतिवार को रुपया 75.26 प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। शुक्रवार को दशहरा के अवसर पर फॉरेक्स बाजार बंद था। इस बीच, छह मुद्राओं की तुलना में डॉलर का रुख दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.17 प्रतिशत की बढ़त के साथ 94.09 पर पहुंच गया।

कैसीनो प्रश्नोत्तरी प्रश्न

जून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है.

स्पोर्ट्स बूट

एओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है.

असली दो-आठ बार का खेल

बीजिंग, 18 अक्टूबर (एपी) निर्माण गतिविधियों में सुस्ती तथा ऊर्जा के इस्तेमाल पर अंकुश के बीच सितंबर तिमाही में चीन की आर्थिक वृद्धि दर सुस्त पड़ी है। इससे कोरोना वायरस महामारी की मार से प्रभावित अर्थव्यवस्था का पुनरुद्धार प्रभावित हुआ है। दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर सितंबर में समाप्त तिमाही में 4.9 प्रतिशत रही है। इससे पिछली तिमाही में अर्थव्यवस्था 7.9 प्रतिशत की दर से बढ़ी थी। सोमवार को जारी सरकारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। इस दौरान कारखाना उत्पादन, खुदरा बिक्री, निर्माण और अन्य गतिविधियों में निवेश कमजोर पड़ा है। चीन के

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी
फ़ुटबॉल क्रेडिट URL

नयी दिल्ली, 18 अक्टूबर (भाषा) फ्रैंकलिन टेंपलटन ने अपनी इमर्जिंग मार्केट इक्विटी-भारत की टीम को मजबूत करते हुए अजय अर्गल और वेंकटेश संजीवी को पोर्टफोलियो प्रबंधक नियुक्त किया है। कंपनी ने सोमवार को बयान में कहा कि अर्गल और संजीवी 12 अक्टूबर से पोर्टफोलियो प्रबंधक के रूप में टीम में शामिल हो गए हैं। दोनों चेन्नई में काम संभाल रहे हैं और वे इमर्जिंग मार्केट इक्विटी-भारत टीम के प्रमुख आनंद राधाकृष्णन को रिपोर्ट करेंगे। अर्गल फ्रैंकलिन इंडिया फोकस्ड इक्विटी कोष और फ्रैंकलिन बिल्ड इंडिया फंड के पोर्टफोलियो प्रबंधक होंगे। संजीवी फ्रैंकलिन इंडिया ब्लूचिप फंड और फ्रैंकलिन इंडिया इक्विटी एडवांटेज