casumo लंबित निकासी

casumo लंबित निकासी

time:2021-10-21 14:22:11 अच्‍छे इंक्रीमेंट के लिए अभी दो साल करना पड़ेगा इंतजार : एक्‍सपर्ट्स Views:4591

रूले कुंजी सोना casumo लंबित निकासी 10cric कोरा,casumo फाइन,लीवगैस राजस्व,lovebet कैसीनो 5 मुफ्त,lovebet एनजी लॉगिन,lovebet ज़हल्ट निक्ट औस,एओ स्पोर्ट्स मेडिसिन,बैकरेट सूत्र गणना,बैकारेट अल्टीमो 10 पीस कुकसेट रिव्यू,एपी में बेटिंग किंग,कैसीनो या लक्ज़मबर्ग,कैसीनो हाथापाई,क्लासिक रम्मी पंजीकरण,क्रिकेट का हिंदी नाम,ई स्पोर्ट्स लाइव,यूरोपीय प्रारंभिक,फ़ुटबॉल या फ़ुटबॉल,उत्पत्ति कैसीनो भागीदार,Baccarat में कितने खेल होते हैं,आईपीएल लाइव स्कोर 2020,जैकपॉट आज का परिणाम,लाइव लाठी साइड बेट्स,लिवरपूल रम्मी नियम,लॉटरी कल परिणाम रात 8 बजे,एनबीए सट्टेबाजी विश्लेषण,ऑनलाइन कैसीनो vklad sms,ऑनलाइन पोकर चुटकुले,परिमाच समूह,पोकर मैं हिंदी,खेल सट्टेबाजी साइटों की रैंकिंग,7 . से विभाज्यता का नियम,रमी वेरिएंट हिंदी में,स्लॉट मशीन जैकपॉट्स,स्पोर्ट्स 52 जैकेट पहनें,स्पोर्ट्सबुक आईओ,टेक्सस होल्डम लैपोक एरेसेज,शीर्ष दस फुटबॉल सट्टेबाजी कंपनियां,वर्चुअल क्रिकेट लीग क्या है,xfinity लाइव कैसीनो रेस्तरां,उदयपुरवाटी,क्रिकेट academy,गोवा खेल,डिलीट facebook account,फुटबॉल सिंगल गेम,बेटा ला,लॉटरी धन केसरी रिजल्ट,हैप्पी रमी .अच्‍छे इंक्रीमेंट के लिए अभी दो साल करना पड़ेगा इंतजार : एक्‍सपर्ट्स

इस साल इंक्रीमेंट घटकर 3.6 फीसदी पर पहुंच गए. 2019 में यह आंकड़ा 8.6 फीसदी रहा था.
अच्‍छी वेतनवृद्धि के लिए आपको अभी कम से कम दो साल इंतजार करना पड़ सकता है. 2021 और 2022 में सिंगल डिजिट में इंक्रीमेंट रहने के आसार हैं. इस मोर्चे पर स्थितियों के सामान्‍य होने में कुछ वक्‍त लग सकता है. जानकारों ने इस तरह का अनुमान जाहिर किया है.

कंपनसेशन एक्‍सपर्ट्स के अनुसार, 2022 से पहले इंक्रीमेंट के सामान्‍य होने के आसार नहीं हैं. डेलॉयट इंडिया वर्कफोर्स और इंक्रीमेंट ट्रेंड्स सर्वे के मुताबिक, इस साल इंक्रीमेंट या वेतन में बढ़ोतरी घटकर 3.6 फीसदी पर पहुंच गई. 2019 में यह 8.6 फीसदी रही थी. वेतनवृद्धि में भले अभी समय लगे. लेकिन, कंपनियां मेडिकल, इंश्‍योरेंस और होम ऑफिस के लिए इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर इत्‍यादि मुहैया कराकर नए तरह के बेनिफिट दे रही हैं.

एयॉन कंसल्‍टिंग इंडिया में सीईओ (परफॉर्मेंस रिवॉर्ड्स एंड ऑर्गनाइजेशन एफेक्‍टिवनेस) नितिन सेठी ने कहा, ''जहां तक विभिन्‍न सेक्‍टरों में वेतनवृद्धि का सवाल है तो शेष 2020 और 2021 सुस्‍त रहने वाले हैं.'' उन्‍होंने कहा कि 2022 से आर्थिक गतिविधियां दोबारा रफ्तार पकड़ सकती हैं. इससे बोनस और इंसेंटिव का दौर फिर शुरू हो जाएगा.

इसे भी पढ़ें : एसबीआई इस साल 14,000 लोगों की भर्ती करेगा

सैलरी कब अपने स्‍तर पर लौटेंगी, यह आर्थिक गतिविधियों के बहाल होने पर निर्भर करेगा. डेलॉयट के सर्वे में शामिल 75 फीसदी संस्‍थानों ने मौजूदा अनिश्चितता को देखते हुए वेतनवृद्धि में किसी तरह के अनुमान जाहिर करने से इंकार कर दिया.

इस साल नियमित वेतनवृद्धि करने वाली कंपनियां तीन तिमाहियों के असंतोषजनक प्रदर्शन के साथ अगले वित्‍त वर्ष में प्रवेश करेंगी. ये वेतनवृद्धि को लेकर ज्‍यादा मंथन करेंगी.

इसे भी पढ़ें : आईटी पेशेवरों के लिए खुशखबरी, कंपनियों में एक लाख से ज्‍यादा नौकरी के मौके

डेलॉयट इंडिया में पार्टनर आनंदोरूप घोष ने कहा कि इस साल जिन कंपनियों ने इंक्रीमेंट नहीं दिया है, वे भी इस मोर्चे पर कदम उठाने में देर कर सकती हैं. वे अपने कोर बिजनेस के प्रदर्शन में सुधार की साफ तस्‍वीर आने के बाद ही इस बारे में कोई फैसला लेंगी.

master5
master6

बढ़ सकते हैं बेनिफिट
अगले दो साल में कंपनियों का फोकस कंपनसेशन के बजाय बेनिफिट बढ़ाने पर हो सकता है. ज्‍यादातर कंपनियों के लिए वर्क-फ्रॉम होम अब 'न्‍यू नॉर्मल' बन गया है. ऐसे में ब्रॉडबैंड, फर्नीचर, स्‍टेशनरी इत्‍यादि के लिए अलाउंस के तौर पर बेनिफिट बढ़ सकते हैं. इन्‍हें कंपनसेशन पैकेज का हिस्‍सा बनाया जा सकता है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

इंक्रीमेंटडेलॉयल इंडियासैलरीएक्‍सपर्टसर्वेवेतनवृद्ध‍ि

ETPrime stories of the day

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?
Electric vehicles

Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?

10 mins read
Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?
Agriculture

Kisan Credit Card is critical for agriculture. But can the scheme overcome the challenges?

7 mins read

औरंगाबाद, 20 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय कोयला एवं रेल राज्यमंत्री रावसाहेब दानवे ने बुधवार को दावा किया कि महाराष्ट्र सरकार ने अतिरिक्त कोयला भंडार उठाने से इनकार कर दिया था जिसकी वजह से राज्य में बिजली संकट की स्थिति पैदा हुई। भाजपा नेता ने यहां संवाददताओं से कहा, ‘‘इस मुद्दे पर मेरा राज्य के साथ पत्राचार हुआ था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने राज्य सरकार को अतिरिक्त कोयला उठाने को कहा था। लेकिन राज्य सरकार ने पत्र लिखकर इससे इनकार कर दिया था। केंद्र के पास कोयले का पर्याप्त भंडार है लेकिन राज्य ने इसे नहीं लिया।’’ पिछले सप्ताह राज्य केजम्मू, 20 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय मंत्री बी एल वर्मा ने बुधवार को कहा कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर में सहकारिता क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि पूर्वोत्तर क्षेत्र सहकारिता एवं विकास राज्यमंत्री वर्मा केंद्र सरकार के जनसंपर्क कार्यक्रम के तहत यहां पहुंचे है। वर्मा ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार जम्मू-कश्मीर में सहकारी क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। सहकारिता विभाग को मजबूत और पुनर्जीवित करने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से पहले ही कई पहल की जा चुकी हैं।’’ सहकारिताअच्‍छे इंक्रीमेंट के लिए अभी दो साल करना पड़ेगा इंतजार : एक्‍सपर्ट्स

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण अब तक परीक्षा आयोजित नहीं कराई जा सकी थी.कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.बांग्लादेश सीमा पर ट्रकों की लंबी प्रतीक्षा अवधि से निर्यातक नाराज

कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 2,40,208 थी. कंपनी अपने जूनियर कर्मचारियों को तीसरी तिमाही में एकबारगी विशेष प्रोत्साहन देगी.शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 250 अंक से ज्यादा उछला, निफ्टी 18,350 के पार

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
क्रिकेट हिंदी मीनिंग

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को वैश्विक तेल और गैस कंपनियों को भारत आने और यहां तेल एवं प्राकृतिक गैस क्षेत्र में संभावना तलाशने को आमंत्रित किया। उन्होंने क्षेत्र में सरकार की ओर से किये गये सुधारों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। तेल और गैस क्षेत्र की वैश्विक कंपनियों के मुख्य कार्यपालक अधिकारियों (सीईओ) और विशेषज्ञों से सालाना बातचीत में उन्होंने कहा कि हम भारत को तेल और गैस क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाना चाहते हैं। उद्योग प्रमुखों ने ऊर्जा पहुंच, ऊर्जा को सस्ता बनाने तथा ऊर्जा सुरक्षा के क्षेत्रों में सुधार को लेकर

प्रतिष्ठित मनोरंजन शहर

कोलकाता, 20 अक्टूबर (भाषा) निर्यातकों ने बांग्लादेश के लिए माल ले जा रहे ट्रकों के लिए पेट्रापोल और घोजाडांगा जमीनी सीमाओं पर लंबी प्रतीक्षा अवधि को लेकर कड़ी नाराजगी जताई है। निर्यातकों ने बुधवार को बताया कि माल निर्यात करने वाले ट्रकों को एक महीने से अधिक समय के लिए रोका हुआ है। कुछ मामलों में ट्रक 55 दिनों से खड़े हुए हैं। फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट्स के चेयरमैन (पूर्व) सुशील पटवारी ने पीटीआई-भाषा से कहा, “ट्रकों की लंबी प्रतीक्षा अवधि के कई कारण है। दोनों देशों से निर्यात की मात्रा बढ़ी है और दुर्गा पूजा की छुट्टियों ने

कोमो जोगर या लवबेट

भुवनेश्वर, 20 अक्टूबर (भाषा) इन्फोसिस के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति ने मंगलवार को कहा कि एक अच्छा नागरिक होने का मतलब समाज को अपना मानना है। वर्चुअल तरीके से आईआईटी भुवनेश्वर के 10वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में बोलते हुए, मूर्ति ने रेखांकित किया कि देश में गरीबी को दूर करने का एकमात्र तरीका बेहतर आय के साथ अधिक से अधिक रोजगार सृजित करना है। मूर्ति ने अपने संबोधन में कहा, ‘‘युवाओं की शक्ति, मूल्यों, आकांक्षाओं, ऊर्जा, आत्मविश्वास, दृढ़ संकल्प, अनुशासन और उत्साह

वर्चुअल क्रिकेट लाइव स्कोर t10 2021

भुवनेश्वर, 20 अक्टूबर (भाषा) इन्फोसिस के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति ने मंगलवार को कहा कि एक अच्छा नागरिक होने का मतलब समाज को अपना मानना है। वर्चुअल तरीके से आईआईटी भुवनेश्वर के 10वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में बोलते हुए, मूर्ति ने रेखांकित किया कि देश में गरीबी को दूर करने का एकमात्र तरीका बेहतर आय के साथ अधिक से अधिक रोजगार सृजित करना है। मूर्ति ने अपने संबोधन में कहा, ‘‘युवाओं की शक्ति, मूल्यों, आकांक्षाओं, ऊर्जा, आत्मविश्वास, दृढ़ संकल्प, अनुशासन और उत्साह

लूडो एलीट

कोलकाता, 20 अक्टूबर (भाषा) निर्यातकों ने बांग्लादेश के लिए माल ले जा रहे ट्रकों के लिए पेट्रापोल और घोजाडांगा जमीनी सीमाओं पर लंबी प्रतीक्षा अवधि को लेकर कड़ी नाराजगी जताई है। निर्यातकों ने बुधवार को बताया कि माल निर्यात करने वाले ट्रकों को एक महीने से अधिक समय के लिए रोका हुआ है। कुछ मामलों में ट्रक 55 दिनों से खड़े हुए हैं। फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट्स के चेयरमैन (पूर्व) सुशील पटवारी ने पीटीआई-भाषा से कहा, “ट्रकों की लंबी प्रतीक्षा अवधि के कई कारण है। दोनों देशों से निर्यात की मात्रा बढ़ी है और दुर्गा पूजा की छुट्टियों ने

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी