रूले डीसी

रूले डीसी

time:2021-10-18 16:01:54 एनपीएस में निवेश किया है? जानिए एसेट एलोकेशन में कैसे करें बदलाव Views:4591

cricket निबंध मराठी रूले डीसी 188bet वैकल्पिक लिंक,casumo कोकेमुक्शिया,leovegas विजेता,lovebet जमा,lovebet ऊ,lovebet.com फिल्म,या क्रिकेट,बैकारेट खेल नियम,बैकारेट जीतने या हारने के नियम,जीरो वॉच ऑनलाइन पर दांव,गोवा में कैसीनो क्रूज,कैसीनो एक्स еркало 2020,कॉम क्रिकेट मैच,क्रिकेट और वीडियो,एस्पोर्ट्स अदालाह,फैबियन बेनोइट,फुटबॉल प्रमोशन फोरम,उत्पत्ति ऑनलाइन कैसीनो समीक्षा,फुटबॉल ऑनलाइन कैसे खरीदें,आईपीएल परिणाम,जैकपॉट ज़िप्पो,लाइव कैसीनो लाठी,लॉटरी 50,लूडो ऑल स्टार,नी लॉटरी पिक 5,ऑनलाइन अंग्रेज़ी-चीनी शब्दकोश,ऑनलाइन पोकर ओयना,पैरिमैच न्यूनतम निकासी,पोकर किंग क्लब,रील स्लॉट साम्राज्य,इंटरनेट वेबसाइट का नियम संख्या 34,रम्मी वाई बुराको विएजेरो,स्लॉट मशीन ऑनलाइन मुफ्त,खेल और क्रीड़ा,स्पोर्ट्सबुक ऑड्स,टेक्सास होल्डम क्वाड्स ऑड्स,टीआरए फुटबॉल कार्यक्रम,सबसे अच्छा बैकारेट खेल कहाँ है? कृपया बाँटें,याकूब 0 पोकर 10 मिलियन,ऑनलाइन खेल सट्टेबाजी,क्रिकेट live news in hindi,गोवा डे रिजल्ट,तीन पत्ती आष्टा,बकरा खाने के नुकसान,बेताब तुमने दी आवाज,लॉटरी शर्मा, .एनपीएस में निवेश किया है? जानिए एसेट एलोकेशन में कैसे करें बदलाव

नेशनल पेंशन स्‍कीम (एनपीएस) सरकार की एक महत्वपूर्ण स्‍कीम है. यह लोगों को रिटायरमेंट के लिए बचत करने में मदद करती है.
नेशनल पेंशन स्‍कीम (एनपीएस) सरकार की एक महत्वपूर्ण स्‍कीम है. यह लोगों को रिटायरमेंट के लिए बचत करने में मदद करती है. इसके लिए उन्हें टियर-1 और टियर-2 अकाउंट में नियमित कॉन्ट्रिब्‍यूशन करने की जरूरत पड़ती है. एनपीएस अकाउंट खोलते वक्त सब्सक्राइबर्स को विकल्प दिया जाता है. वे चाहें तो विभिन्न एसेट क्लास में खुद पैसा लगाएं. या फिर ऑटो च्‍वाइस ऑप्शन चुनें. इसमें सब्सक्राइबर की उम्र के हिसाब से फंडों का आवंटन होता है. एनपीएस के फंडों का प्रबंधन स्‍वतंत्र पोर्टफोलियो मैनेजर करते हैं. सब्‍सक्राइबरों को अकाउंट खोलते वक्त फंड मैनेजर को चुनने की जरूरत होती है. हालांकि, सब्‍सक्राइबर निवेश के एलोकेशन या पोर्टफोलियो मैनेजर को बाद में ऑनलाइन बदल सकते हैं. आइए, यहां जानते हैं कैसे.

सबसे पहले एनपीएस पोर्टल पर जाएं
एनपीएस सब्‍सक्राइबर को सबसे पहले https://cra-nsdl. com/CRA/ पर लॉग-इन करना होगा. लॉग-इन आईडी सब्सक्राइबर का पीआरएएन नंबर होता है.

इसे भी पढ़ें : ईटीएफ के बारे में यहां जानिए अपने हर सवाल का जवाब

स्‍कीम की पसंद कैसे बदलें?
इसके बाद आपको 'ट्रांजैक्ट ऑनलाइन' टैब पर क्लिक करना होगा. फिर 'चेंज स्‍कीम प्रिफरेंस' चुनें. अब आपको टियर-1 या टियर-2 अकाउंट चुनना होगा. एक्टिव च्‍वाइस या ऑटो च्‍वाइस का विकल्प चुनें. अगर ऑटो च्‍वाइस में बदलाव किया जाता है तो एसेट एलोकेशन का प्रतिशत भी विभिन्न एसेट क्लास में बताना होगा.

इसे भी पढ़ें : डॉ रेड्डीज लैब के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

पोर्टफोलियो मैनेजर कैसे बदलें?
आप पोर्टफोलियो मैनेजमेंट कंपनी भी बदल सकते हैं. ये पेंशन फंड का प्रबंधन करती हैं. यह बदलाव 'ट्रांजैक्ट ऑनलाइन' पर क्लिक कर 'चेंज पीएफएम' ऑप्शन चुनकर किया जा सकता है. आप उपलब्ध विकल्पों से अपनी पसंद का पीएफएम चुन सकते हैं. फिर रिक्वेस्ट को जमा कर दें.

किन बातों का रखें ध्‍यान?
- पोर्टफोलियो मैनेजर में बदलाव एनपीएस पोर्टफोलियो मैनेजर्स के इंवेस्‍टमेंट रिटर्न की तुलना के बाद किया जा सकता है. इसके लिए एक समयसीमा और खास एसेट क्लास चुने जा सकते हैं.

- ये बदलाव पीओपी-एसपी के कार्यालय में जाकर किए जा सकते हैं. इसके लिए बदलाव संबंधी फॉर्म जमा करना होगा.

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें
(Disclaimer: The opinions expressed in this column are that of the writer. The facts and opinions expressed here do not reflect the views of www.economictimes.com.)

टॉपिक

एनपीएसफंड मैनेजरसब्‍सक्राइबरएसेट एलोकेशननेशनल पेंशन सिस्‍टम

ETPrime stories of the day

How DealShare’s multitasking community leaders can help it build a Meesho for grocery beyond metros
Digital economy

How DealShare’s multitasking community leaders can help it build a Meesho for grocery beyond metros

12 mins read
PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business
Markets

Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business

8 mins read

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.फ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड ने शुक्रवार को कहा कि उसकी छह योजनाओं को अप्रैल 2020 में बंद होने के बाद से 15,776 करोड़ रुपये मिले हैं.अगले 3-6 महीने में कोविड से पहले के स्तर पर पहुंच जाएगी कंपनियों की भर्ती : सर्वे

इंडेक्‍स फंडों की तरह ईटीएफ अमूमन किसी खास मार्केट इंडेक्स को ट्रैक करते हैं. इनका प्रदर्शन उस इंडेक्‍स जैसा होता है.अपने साथ की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के मुकाबले डॉ रेड्डीज लैब का वैल्यूएशन कम है. साथ ही बैलेंसशीट भी मजबूत है.इन तरीकों से आप घर बैठे कमा सकते हैं पैसा

साल में कम से कम एक निवेश की समीक्षा जरूर करें और दोबारा संतुलन बनाएं. अपने लिए पर्याप्‍त लाइफ इंश्‍योरेंस खरीदें.नौकरी जॉबस्पीक्स इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल बदलाव की लहर में सूचना प्रौद्योगिकी-सॉफ्टवेयर क्षेत्र लगातार इससे बचा हुआ है.इन तरीकों से आप घर बैठे कमा सकते हैं पैसा

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
ऑनलाइन पैसे बनाएं rajasthani

पिछले 10 साल में ओएनजीसी अपने उत्पादन में कोई बड़ी बढ़ोतरी करने में नाकामयाब रही है.

रूले भाग्यशाली संख्या

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.

खुश किसान.कॉम

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.

करीना गेम

डेट म्‍यूचुअल फंडों की कई कैटेगरी हैं. मनी मार्केट म्‍यूचुअल फंड उनमें से एक है. ये स्‍कीमें उन लोगों के लिए मुफीद होती हैं जो अपने निवेश के साथ बहुत कम जोखिम लेना चाहते हैं. चूंकि ये स्‍कीमें छोटी अवधि के इंस्‍ट्रूमेंट में पैसा लगाती हैं. इसलिए इन पर अर्थव्‍यवस्‍था में ब्‍याज दर में होने वाले बदलाव का ज्‍यादा असर नहीं पड़ता है. मनी मार्केट इंस्‍ट्रूमेंट के साथ कम जोखिम होने के कारण भी इनमें निवेश अपेक्षाकृत सुरक्षित होता है. आइए, यहां इनके बारे में कुछ जरूरी बातों को जानते हैं.

इंडिबेट क्विज

सुकन्या समृद्धि स्‍कीम में बेटी के जन्‍म के बाद उसके नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है. उसके 10 साल का होने तक ऐसा किया जा सकता है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी