क्रिकेट x

क्रिकेट x

time:2021-10-18 16:03:16 कोरोना के दौर में सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीत? Views:4591

बैकारेट क्रिस्टल ग्लास क्रिकेट x 188bet बाधा,casumo शेयर की कीमत,lovebet १० ४०,lovebet ई२ ८० ८बी,lovebet भविष्यवाणी ऐप डाउनलोड,lovebet-4,बी फुटबॉल खिलाड़ी,baccarat id3 चाकू की समीक्षा,बैकारेट-004,सट्टेबाजी यूएसए,कैसीनो के दिनों में कोई जमा बोनस नहीं,कैसिनोडेज गुरु,कॉमोन रोलर स्केट्स की समीक्षा,क्रिकेट योजना,एस्पोर्ट्स एफएफ,फिशिंग रश क्रीक लेक ओहियो,फुटबॉल टेबल,क्रिकेट पर जीके प्रश्न 2020,Tencent Weibo से कैसे लॉग आउट करें,आईपीएल श्याओमी,जंगल रम्मी मोबाइल नंबर,लाइव कैसीनो गेम ट्रैकर,लॉटरी आनंद संबादी,लूडो मुफ्त डाउनलोड,एनवाई लॉटरी परिणाम,खाता खोलने के लिए ऑनलाइन जुआ,gcash का उपयोग कर ऑनलाइन पोकर,परिमच साइन इन,पोकर रात का खेल,सम्मानित ऑनलाइन baccarat,नियम उपयोगितावाद उदाहरण,रम्मीकल्चर संपर्क नंबर,स्लॉट मशीन अनब्लॉक,बच्चों के लिए खेल किताबें,स्पोर्ट्सबुक वेगास ऑनलाइन,टेक्सास होल्डम बनाम 5 कार्ड ड्रा,U19 क्रिकेट लाइव स्कोर,कौन सा बैकारेट बेहतर है,ज़िगज़ैग स्पोर्ट्सबुक,ऑनलाइन जुआ utm,क्रिकेट video download,गोवा फिल्म,तीन पत्ती डाउनलोड एपीके,बकरा वाला गेम,बैकारेट grammar,सभी खेल, .कोरोना के दौर में सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीत?

सैलरी बढ़ाने के लिए बातचीत करना यूं भी आसान नहीं होता है. मौजूदा स्थितियों में तो यह काम और भी मुश्किल हो गया है.
सैलरी बढ़ाने के लिए बातचीत करना यूं भी आसान नहीं होता है. फिर चाहे आप अपनी कंपनी में मौजूदा बॉस से चर्चा कर रहे हों या फिर नई जॉब ऑफर के लिए वहां के प्रबंधन से. इस दौरान तनाव रहता ही है. मौजूदा स्थितियों में जब कोरोना की महामारी के कारण काफी लोगों को सैलरी में कटौती और नौकरी गंवाने तक का सामना करना पड़ा है तो यह काम और भी मुश्किल हो गया है. आपको अगर इन स्थितियों का सामना नहीं करना पड़ा है. लेकिन, अपनी मौजूदा सैलरी में बढ़ोतरी या ज्‍यादा पैसे वाली नौकरी चाहते हैं, तो यह संभव है. इसके लिए आपको कुछ चीजें करनी होंगी. आइए, यहां उनके बारे में जानते हैं.

डेटा रखें तैयार
सबसे पहले आपको पूरे साल के दौरान किए गए कॉन्ट्रिब्‍यूशन को लिख लेना चाहिए. ये कॉन्ट्रिब्‍यूशन आपके कार्यक्षेत्र के अनुसार हो सकते हैं. मसलन, आपने सेल्‍स टारगेट पूरे किए हों, महत्‍वपूर्ण प्रोजेक्‍ट सफलता से निपटाया हो, अतिरिक्‍त जिम्‍मेदारी ली हो या कंपनी की कॉस्‍ट में अंतर पैदा किया हो इत्‍यादि. यह आपको सैलरी बढ़ाने के लिए अपना पक्ष रखने में मदद करेगा. आप बॉस के सामने साल का पूरा ब्‍योरा रख पाएंगे. इस तरह उनका फैसला हाल की घटनाओं पर निर्भर नहीं करेगा.

इसे भी पढ़ें : सिर्फ 10% कर्मचारी ऑफिस लौटे : रिपोर्ट

मार्केट में अपनी वैल्‍यू जान लें
आपको अपनी स्किल्‍स का पैसा मिलता है. इस बात का पता करें कि आप जैसी स्किल रखने वाले लोगों को बाहर कितनी सैलरी मिल रही है. आपके अनुभव और स्किल्‍स से जुड़ी कितनी जॉब हैं. रिक्रूटमेंट कंसल्‍टेंट क्‍या आपको कॉल करते हैं और वे कितनी सैलरी ऑफर करते हैं.

कंपनी की जरूरत जानें
कोरोना के दौर में कंपनी की जरूरतों में बदलाव हुआ है. मुमकिन है कि जिस काम में आप बहुत अच्‍छे हों, उसमें कंपनी को लोगों की बहुत जरूरत न हो या उसमें काम घटा हो. देख लें कि आप कोर टीम का हिस्‍सा हैं या आपके बगैर ऑपरेशन चल सकते हैं.

तनाव कम करें
सैलरी पर बातचीत की जरूरत अमूमन साल में एक बार या फिर नौकरी बदलते वक्‍त पड़ती है. इस दौरान अगर आप तनाव में नहीं आते हैं तो अच्‍छा है. पर, ऐसा होता है तो अभ्‍यास जरूरी है. इसके लिए दोस्‍तों या परिवार के सदस्‍यों की मदद ले सकते हैं. अपने काम और जो सैलरी चाहते हैं, उस पर जब आप बार-बार बात करेंगे तो वास्‍तविक स्थिति आने पर तनाव कम रहेगा.

इसे भी पढ़ें : क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद

सही समय चुनें
सैलरी बढ़ाने के लिए बॉस से बात करने का समय बेहद अहमियत रखता है. उस दिन ऐसी बात करना ठीक नहीं होगा जिस दिन उन्‍होंने लागत घटाने के लिए कुछ लोगों को बाहर किया हो या किसी प्रोजेक्‍ट को पूरा करने की डेडलाइन पास हो. अच्‍छा होगा कि ऐसी बातचीत टेलीफोन कॉल के बजाय आमने-सामने हो.

कमीशन और बोनस हैं ऑप्‍शन
सिर्फ वेतनवृद्धि विकल्‍प नहीं है. आप जितनी बढ़ोतरी चाहते हों, शायद कोई कंपनी उसका दोगुना देने के लिए तैयार हो सकती है. लेकिन, वह ईसॉप्‍स, बोनस या कमीशन के रूप में हो. उस स्थिति में पूछ लेना चाहिए कि ये कैसे काम करेंगे और इनका फायदा आप कैसे उठा पाएंगे.

पैसे के अलावा यह है विकल्‍प
अगर वेतन में बढ़ोतरी संभव नहीं है तो आप ऐसे दूसरे बेनिफिट देने के लिए कह सकते हैं जो आपके लिए मायने रखते हैं. इन पर कंपनी और आपकी सहमति होनी चाहिए. मसलन, आप बच्‍चे को स्‍कूल छोड़ने के लिए ऑफिस टाइमिंग को आधे घंटे शिफ्ट कराना चाहते हों. कोई अलग भूमिका चाहते हों या नए प्रोजेक्‍ट पर काम करने के इच्‍छुक हों.

(लेखक कर‍ियर कोच और मेंटर हैं.)

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.
(Disclaimer: The opinions expressed in this column are that of the writer. The facts and opinions expressed here do not reflect the views of www.economictimes.com.)

टॉपिक

सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीतकॉन्ट्रिब्‍यूशनडेटा रखें तैयारकाेराेना की महामारीवेतनवृद्धिरिक्रूटमेंट कंसल्‍टेंट

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business
Markets

Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business

8 mins read
Still taxiing: Akasa Air, Jet Airways continue to wait for green signal. When will they take off?
Aviation

Still taxiing: Akasa Air, Jet Airways continue to wait for green signal. When will they take off?

15 mins read

सुकन्या समृद्धि स्‍कीम में बेटी के जन्‍म के बाद उसके नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है. उसके 10 साल का होने तक ऐसा किया जा सकता है.फ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड ने शुक्रवार को कहा कि उसकी छह योजनाओं को अप्रैल 2020 में बंद होने के बाद से 15,776 करोड़ रुपये मिले हैं.मुझे रिटायरमेंट के लिए 21 साल में 1 करोड़ रुपये जुटाना है, कैसे प्‍लान बनाऊं?

इंडेक्‍स फंडों की तरह ईटीएफ अमूमन किसी खास मार्केट इंडेक्स को ट्रैक करते हैं. इनका प्रदर्शन उस इंडेक्‍स जैसा होता है.फ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड ने शुक्रवार को कहा कि उसकी छह योजनाओं को अप्रैल 2020 में बंद होने के बाद से 15,776 करोड़ रुपये मिले हैं.अगले 3-6 महीने में कोविड से पहले के स्तर पर पहुंच जाएगी कंपनियों की भर्ती : सर्वे

आईबीए ने बैंक कर्मचारी और अधिकारी संघों के साथ 11वीं द्विपक्षीय वेतनवृद्धि वार्ता नई सहमति के साथ सम्पन्न होने की बुधवार को घोषणा की.पिछले 10 साल में ओएनजीसी अपने उत्पादन में कोई बड़ी बढ़ोतरी करने में नाकामयाब रही है.अगले 3-6 महीने में कोविड से पहले के स्तर पर पहुंच जाएगी कंपनियों की भर्ती : सर्वे

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
खेल.0l

कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.

बैकरेट मनोरंजन विश्लेषण सॉफ्टवेयर

एनपीएस अकाउंट खोलते वक्त सब्सक्राइबर्स को विकल्प दिया जाता है. वे चाहें तो विभिन्न एसेट क्लास में खुद पैसा लगाएं. या फिर ऑटो च्‍वाइस ऑप्शन चुनें.

जैकपॉट पेज

कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.

ट्राई शतरंज बोर्ड

भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.

जेड लॉटरी संबाद

दिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान ग्रोथ देने के चलते साल 2021-22 के लिए कर्मचारियों की सैरली बढ़ाई है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी