बेटा शब्द का बहुवचन

Publishing time:2021-10-18 14:37:42

लाइव कैसीनो ऐप बेटा शब्द का बहुवचन 10cric शून्य,casumo जैकपॉट समीक्षा,लीवगैस सत्यापन,lovebet ng nhập,lovebet ऑनलाइन,lovebet.com फुटबॉल,या कैसीनो zwevegem,बैकारेट गेम मशीन की कीमतें,बैकरेट जीतना धोखा देती है,असली पैसे पर दांव लगाना,कैसीनो के सिक्के,कैसीनो की दुनिया,कॉड एस्पोर्ट्स xp,क्रिकेट अर्थ,इलेक्ट्रॉनिक लीग वर्चुअल क्रिकेट लीग,एफए शतरंज,फुटबॉल पोस्ट आकार,उत्पत्ति कैसीनो निकासी,Sic Bo . पर बेट कैसे लगाएं,आईपीएल कोरा,जैकपॉट यूट्यूब,लाइव कैसीनो बाल्टीमोर,लॉटरी 4-अंकीय दोपहर,भाग्यशाली दिन कैसीनो समीक्षा,NBA का वेतन अधिक है या फ़ुटबॉल,ऑनलाइन क्रेडिट बेटिंग नेटवर्क,ऑनलाइन पोकर ओहियो,परिमच लाइवबातचीत,पोकर जुगदास,अनुशंसित ऑनलाइन फ़ुटबॉल खाता खोलना,नियम मध्यबिंदु,रम्मी x आयु,स्लॉट मशीन शोर,खेल एक और,स्पोर्ट्सबुक एनबीए चुनता है,टेक्सास होल्डम पोकर डाउनलोड,tr खेल dandenong,लाइव बैकारेटा कहाँ है,याहू स्पोर्ट्सबुक स्टेट्स,ऐसी बरसात में,क्रिकेट ka itihas,गोवा टेंपरेचर,तीन पत्ती online game,बकरा और बंदर का खेल,बेताज बादशाह,लॉटरी लकी नंबर 2020, .कोयला संकट के कारण घरेलू स्पॉन्ज आयरन क्षेत्र नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है: उद्योग निकाय

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

कोयला संकट के कारण घरेलू स्पॉन्ज आयरन क्षेत्र नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है: उद्योग निकाय

(अभिषेक सोनकर)

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) शीर्ष उद्योग निकाय एमआईएमए के मुताबिक ‘‘अगर कोयले की कमी बनी रही तो’’ घरेलू स्पॉन्ज आयरन उद्योग दिसंबर तिमाही में नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है।'

स्पॉन्ज आयरन विनिर्माता संघ (एसआईएमए) के कार्यकारी निदेशक दीपेंद्र काशिवा ने कहा कि मौजूदा कोयला संकट के बीच जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान भारत के स्पॉन्ज आयरन उत्पादन में इससे पिछली तिमाही के मुकाबले 60 प्रतिशत तक गिरावट हो सकती है।

जेपीसी के आंकड़ों के मुताबिक जनवरी-मार्च 2021 के मुकाबले अप्रैल-जून 2021 में स्पॉन्ज आयरन उत्पादन 70 प्रतिशत बढ़ा था। उन्होंने बिना कोई ब्योरा दिए कहा कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में इसके 60 प्रतिशत घटकर 10 फीसदी के स्तर पर आने की आशंका है।

काशिवा ने पीटीआई-भाषा से टेलीफोन पर बातचीत में कहा, ‘‘अगर हालात ऐसे ही बने रहे... अगर कोयले की कमी बनी रही, तो मुझे आशंका है कि तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) में नकारात्मक वृद्धि होगी।’’

उन्होंने कहा कि सितंबर के जेपीसी के आंकड़े अगले सप्ताह तक जारी कर दिए जाएंगे। इस्पात मंत्रालय के तहत संयुक्त संयंत्र समिति (जेपीसी) एकमात्र संस्था है, जो भारतीय इस्पात और लौह क्षेत्र के आंकड़े जमा करती है।

उन्होंने आगे कहा कि कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) ने हाल ही में केवल ताप बिजली संयंत्रों को कोयला देने की घोषणा की है और बाकी उद्योगों को आपूर्ति रोकी जा रही है। बिजली क्षेत्र के बाद स्पॉन्ज आयरन और सीमेंट उद्योग कोयले के दो बड़े उपभोक्ता हैं।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Air India sale: With the government exiting Maharaja’s cockpit, can Tatas pilot the airline to glory?
Aviation

Air India sale: With the government exiting Maharaja’s cockpit, can Tatas pilot the airline to glory?

14 mins read
How troubled Srei lenders gave INR9,300 crore sweet loans to companies linked to Kanorias
Under the lens

How troubled Srei lenders gave INR9,300 crore sweet loans to companies linked to Kanorias

8 mins read
PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
कोयला संकट के कारण घरेलू स्पॉन्ज आयरन क्षेत्र नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है: उद्योग निकाय

यूनिट लिंक्ड इंश्‍योरेंस प्‍लान यानी यूलिप और म्यूचुअल फंड कई मायनों में अलग होते हैं. यह और बात है कि कई लोग इन्‍हें एक जैसा प्रोडक्ट समझने की भूल कर बैठते हैं. आपको भी अगर ऐसी गलतफहमी है तो यहां हम इन दोनों के बीच कुछ महत्वपूर्ण अंतरों के बारे में बता रहे हैं.नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) रूट मोबाइल के शेयरधारकों ने प्रतिभूतियों के जरिये 2,000 करोड़ रुपये जुटाने की मंजूरी दे दी है। उपक्रम संचार सेवाप्रदाता कंपनी के शेयरधारकों ने इसके साथ ही कंपनी में विदेशी पोर्टफोलियो निवेश की सीमा को बढ़ाने की भी अनुमति दी है। कंपनी की ओर से शनिवार को दाखिल रिपोर्ट के अनुसार उसके 95 प्रतिशत शेयरधारकों ने इस प्रक्रिया में भाग लिया और इनमें से अधिकांश ने इक्विटी या इसी तरह की अन्य प्रतिभूतियों के जरिये 2,000 करोड़ रुपये जुटाने की मंजूरी दी। हालांकि, इस प्रक्रिया में भाग लेने वाले 24.45 प्रतिशत सार्वजनिक संस्थान शेयरधारकों नेनियमित आमदनी के लिए इन पांच विकल्प में निवेश कर सकते हैं सीनियर सिटीजन

नयी दिल्ली 17 अक्टूबर (भाषा) घरेलू इलेक्ट्रॉनिक विर्निमाण कंपनी डिक्सन टेक्नोलॉजी ने 5जी मिलीमीटर वेव्स स्मार्टफोन का उत्पादन शुरू कर दिया है, जो इस श्रेणी में भारत से निर्यात किए जाने वाले उपकरणों का पहला सेट होगा। कंपनी एक शीर्ष अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। डिक्सन ने 70 लाख 5जी मिलीमीटर (मिमी) फोन की वार्षिक उत्पादन क्षमता के साथ एक विनिर्माण इकाई स्थापित की है और वह नोएडा में तीन करोड़ स्मार्टफोन की वार्षिक उत्पादन क्षमता के साथ एक और कारखाना स्थापित कर रही है। डिक्सन टेक्नोलॉजीज के कार्यकारी अध्यक्ष सुनील वाचानी ने पीटीआई-भाषा को बताया, "ओर्बिक मायरा 5जीनयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) वित्त मंत्रालय जल्द ही निजीकरण के लिए तैयार केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों (सीपीएसई) की जमीन और गैर-प्रमुख संपत्तियों के हस्तांतरण और बाद में मौद्रिकरण के लिए एक कंपनी बनाने को मंत्रिमंडल की मंजूरी लेगा। निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) के सचिव तुहिन कांता पांडेय ने कहा कि इन परिसंपत्तियों को संभालने के लिए कंपनी के रूप में एक विशेष इकाई (एसपीवी) की स्थापना की जाएगी, जिनका बाद में मौद्रिकरण किया जाएगा। पांडेय ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘हम एक ऐसी कंपनी के बारे में बात कर रहे हैं, जो कई सालों तक रहेगी, जो अतिरिक्तनिवेशकों और उद्योग के हितधारकों के लिए भारत में काफी अवसर : सीतारमण

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) राष्ट्रीय परिसंपत्ति पुनर्गठन कंपनी (एनएआरसीएल) या बैड बैंक जल्द ही शेयरधारकों के उचित प्रतिनिधित्व और बेहतर कॉरपोरेट प्रशासन के लिए बोर्ड में और निदेशकों को शामिल करेगा। सूत्रों ने बताया कि निजी क्षेत्र के बैंकों की तरफ से शेयरधारकों का 49 प्रतिशत प्रतिनिधित्व होगा। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने इस महीने की शुरुआत में 6,000 करोड़ रुपये की एनएआरसीएल को लाइसेंस दिया था, जिसमें सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की 51 प्रतिशत हिस्सेदारी है। सूत्रों ने कहा कि निजी क्षेत्र के बैंकों की ओर से शेयरधारकों का 49 प्रतिशत प्रतिनिधित्व होगा। रिजर्व बैंक ने एनएआरसीएलवित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 41 फीसदी बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचई गई.लंबी अवधि में क्‍या क्रिप्‍टोकरेंसी पैसा बनाने में मदद करेगी?

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


ऊपर रखते हुएक्रिकेट की किताब
गोगा जी
पासा रीजनिंग प्रश्न pdf
पोकर गोदाम
बेटिंग नेटवर्क में रजिस्टर करें
शतरंज 960 पद
lovebet गेम ट्रिक्स
बी लॉटरी
lovebet नाइजीरिया कस्टमर केयर नंबर
क्या ऑनलाइन लॉटरी सट्टेबाजी विश्वसनीय है?
रम्मी x आयु
क्रिकेट हिंदी अर्थ
सड़क देखने के लिए बैकरेट खेल
gcash . का उपयोग करके ऑनलाइन कैसीनो
इलेक्ट्रॉनिक खेल hotline
कुवैत में lovebet स्पोर्ट वॉच की कीमत
कैसीनो 595
बेटा डीजे गाना
बोनस कैसीनो एल्गोरिदम
बेताब अजय देवगन
स्क्रिल वाई लवबेट
रम्मी 360
एनबीए बास्केटबॉल लाइव स्कोर
क्रिकेट उद्घाटन
स्लॉट 0
क्रिकेट ताजा
lovebet 4 स्कोर करने के लिए काम नहीं कर रहा है