लॉटरी सपनों का घर

लॉटरी सपनों का घर

time:2021-10-18 15:34:42 आईटी और रिटेल सेक्‍टर में मार्च में हुईंं ज्‍यादा भर्तियां : रिपोर्ट Views:4591

लाइव ब्लैकजैक स्पीलें लॉटरी सपनों का घर 10cric लॉगिन पेज,casumo कैसीनो भारत,लियोवेगास ऑनलाइन कैसीनो लॉगिन,lovebet सबसे बड़ी जीत,lovebet ना स्लोवेनस्कु 2020,lovebet याहू फाइनेंस,एड्रेनालाईन रश फिशिंग चार्टर्स,बैकरेट मनोरंजन मंच,बैकरेट टिप्स रिलीज,सट्टेबाजी का केंद्र,कैसीनो एक दुबई,कैसीनो टोकन मरने के लिए 7 दिन,क्लासिक रम्मी नया खाता,क्रिकेट भारत बनाम इंग्लैंड,ई शतरंज संकेतन,यूरोपीय फुटबॉल मैच,फ़ुटबॉल सदस्य URL,उत्पत्ति कैसीनो सूची,आप फुटबॉल के खेल को कैसे देखते हैं,आईपीएल इतिहास,जैकपॉट शेयर,लाइव लाठी ऑनलाइन इंडोनेशिया,लाइव सिक बो गेम वेबसाइट जो निकासी तेज है,लॉटरी विजेता कहानियां,प्राकृतिक 8 baccarat,ऑनलाइन कैसीनो परीक्षण,ऑनलाइन पोकर हैक सभी कार्ड देखें,पैरिमैच अंग्रेजी,पोकर गेम कैश,आर/शतरंज,कानून द्वारा शासन,रमी टूर APK,स्लॉट मशीन मुफ्त गैलिना,स्पोर्ट्स 11 ऐप डाउनलोड,स्पोर्ट्सबुक गेम्स,पोकर ऑनलाइन में टेक्सास होल्डम,यूरोप में शीर्ष 10 सट्टेबाजी कंपनियां,जुआ क्या है,एक्स पोकर क्लब,इलेक्ट्रॉनिक खेल vidmate डाउनलोड,कैसीनो में कैसे जीते,गोवा ओके,झूठ स्टेटस,फुटबॉल लॉटरी english,बेटा बोलो,लॉटरी चेकिंग,स्पोर्ट्स साइकिल .आईटी और रिटेल सेक्‍टर में मार्च में हुईंं ज्‍यादा भर्तियां : रिपोर्ट

कोविड- 19 की दूसरी लहर को देखते हुए शिक्षा, अध्यापन क्षेत्र में मार्च महीने में नियुक्तियों में 13 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई.
मुंबई : आईटी-सॉफ्टवेयर और खुदरा क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ने की बदौलत मार्च में इससे पिछले महीने के मुकाबले नियुक्ति गतिविधियों में मामूली वृद्धि दर्ज की गई. फरवरी के 2,356 के मुकाबले मार्च 2021 में नौकरियों के विज्ञापन 2,436 दिखे.

नौकरी जॉबस्पीक्स इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल बदलाव की लहर में सूचना प्रौद्योगिकी-सॉफ्टवेयर क्षेत्र लगातार इससे बचा हुआ है. इसमें मार्च के दौरान नियुक्तियों में 11 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई.

कोरोना वायरस महामारी के कारण खुदरा क्षेत्र पर बुरा प्रभाव पड़ा है. यह क्षेत्र भी फिर से उबरने की राह पर है जिसके तहत माह दर माह नियुक्तियों में पिछले महीने 15 फीसदी की वृद्धि हुई.

इसे भी पढ़ें : सैलरी और पर्क्‍स के पेमेंट के लिए कंपनियों ने शुरू किया क्रिप्‍टोकरेंसी का इस्‍तेमाल

नौकरी जॉबस्पीक एक मासिक सूचकांक है जो कि नौकरी डॉट कॉम वेबसाइट पर डाली जानी वाली नौकरियों के आधार पर नियुक्ति गतिविधियों की गणना करता है और उन्हें रिकॉर्ड करता है.

अर्थव्यवस्था के प्रमुख क्षेत्रों तेल एवं गैस में सात फीसदी, अकाउंटिंग-टैक्सेशन वित्त में छह फीसदी और दूरसंचार आईएसपी में नियुक्ति गतिविधियों में फरवरी के मुकाबले पांच फीसदी वृद्धि दर्ज की गई. वहीं दूसरी तरफ बीपीओ/आईटीईएस और बीएफएसआई में एक फीसदी की सामान्य स्थिति रही.

इसे भी पढ़ें : फ्रेशर्स के लिए मौका, कंपनियां बड़े पैमाने पर कर रही हैं भर्ती

कोविड- 19 की दूसरी लहर को देखते हुए शिक्षा, अध्यापन क्षेत्र में मार्च महीने में नियुक्तियों में 13 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. वहीं त्वरित उपभोग वाले सामानों (एफएमसीजी) में 10 फीसदी और होटल, एयरलाइंस, यात्रा क्षेत्र में आठ फीसदी गिरावट दर्ज की गई.

देश के सभी छह महानगरों और दूसरी श्रेणी के प्रमुख शहरों में मार्च के महीने में माह-दर- माह आधार पर नियुक्तियों में वृद्धि हुई. लेकिन, इसमें कोलकाता, वड़ोदरा में क्रमश: तीन और दो फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. वहीं, दूसरी श्रेणी के शहरों में अहमदाबाद में मार्च में सबसे ज्यादा 13 फीसदी वृद्धि की गई.

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

रोजगार के अवसरनियुक्ति गतिविधिखुदरा क्षेत्रनौकरी जॉबस्‍पीक इंडेक्‍सकोरोना वायरस

ETPrime stories of the day

How DealShare’s multitasking community leaders can help it build a Meesho for grocery beyond metros
Digital economy

How DealShare’s multitasking community leaders can help it build a Meesho for grocery beyond metros

12 mins read
PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business
Markets

Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business

8 mins read

नौकरी जॉबस्पीक्स इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल बदलाव की लहर में सूचना प्रौद्योगिकी-सॉफ्टवेयर क्षेत्र लगातार इससे बचा हुआ है.कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.फ्रैंकलिन टेंपलटन की छह बंद योजनाओं को मिले 15,776 करोड़ रुपये

सर्वे में 20 से ज्‍यादा इंडस्‍ट्रीज की 1,200 कंपनियों की प्रतिक्रिया ली गई. इनमें से 1,000 ने इस साल वेतनवृद्धि के लिए कहा है.नौकरी जॉबस्पीक्स इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल बदलाव की लहर में सूचना प्रौद्योगिकी-सॉफ्टवेयर क्षेत्र लगातार इससे बचा हुआ है.निवेश की शुरुआत करने जा रहे हैं? जानिए कैसे उठाएं एक-एक कदम

पिछले साल से अब तक बड़े उतार-चढ़ाव हुए हैं. लोगों ने कोरोना की महामारी के कहर को देखा और अब जिंदगी को पटरी पर लौटते देख रहे हैं. शायद ही यह दौर भुलाए भूलेगा. हालांकि, इससे कई सबक भी मिले हैं. ये करियर में आगे बढ़ने में मदद कर सकते हैं. आइए, यहां उनके बारे में जानते हैं.आपको अपनी स्किल्‍स का पैसा मिलता है. इस बात का पता करें कि आप जैसी स्किल रखने वाले लोगों को बाहर कितनी सैलरी मिल रही है.बेटी की उम्र 8 साल है, सुकन्या समृद्धि और पीपीएफ में से किसमें निवेश करना फायदेमंद?

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
लॉटरी दा

सर्वे में 20 से ज्‍यादा इंडस्‍ट्रीज की 1,200 कंपनियों की प्रतिक्रिया ली गई. इनमें से 1,000 ने इस साल वेतनवृद्धि के लिए कहा है.

डीएच फुटबॉल जर्सी

दिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान ग्रोथ देने के चलते साल 2021-22 के लिए कर्मचारियों की सैरली बढ़ाई है.

casumo मुक्त स्पिन कोई जमा नहीं

जब संस्‍थान में किसी कर्मचारी को नौकरी छोड़ने के लिए कहा जाता है तो वे आमतौर पर चौंक जाते हैं. लेकिन, कई मामलों में इसके संकेत पहले से मिलने लगते हैं. बात सिर्फ इतनी होती है कि कर्मचारी इन संकेतों का मतलब समझकर सुधार की दिशा में कदम नहीं उठा पाते हैं. आइए, यहां ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में जानते हैं.

परिमच उज़्

भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.

जोकर लाई लाई

विशेषज्ञों का कहना है कि औद्योगिक कमोडिटीज में निवेश से सोने के मुकाबले बढ़िया रिटर्न मिल सकता है

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी